what things to keep in mind before buying laptop for your child

आजकल बच्चों को भी लैपटॉप की जरूरत पड़ती है और अगर आप अपने बच्चे के लिए लैपटॉप खरीदने जा रही हैं तो आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

आजकल पढ़ाई के लिए भी बच्चों को लैपटॉप या फिर कंप्यूटर का भी इस्तेमाल करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप बच्चों के लिए नया लैपटॉप खरीदने का प्लान कर रही हैं, तो आपको कुछ जरूरी बातों को ध्यान में रखना होगा। चलिए जानते हैं कि वह कौन-कौन सी जरूरी बातें हैं।

1)रेजोल्यूशन चेक करें !

अपने बच्चे के लिए आपको नॉन रिफ्लेक्टिव स्क्रीन वाला लैपटॉप खरीदना चाहिए और कम से कम 720 पिक्सल रिजॉल्यूशन वाली स्क्रीन का ही लैपटॉप खरीदें। बहुत हाई-रेजोल्यूशन डिस्प्ले वाले लैपटॉप को खरीदने की जरूरत नहीं है। इसके अलावा अगर आपका बच्चा कॉलेज में है तो आप उसके लिए हाई रेजोल्यूशन वाला लैपटॉप खरीद सकती हैं।

2)स्पेस का भी रखें ध्यान

लैपटॉप में कम से कम 8 जीबी रैम होना चाहिए। कई लोग बच्चों के लिए 4जीबी वाला लैपटॉप ले लेते हैं और फिर कुछ समय बाद उन्हें फिर से नया लैपटॉप लेना पड़ जाता है। कम स्पेस वाला लैपटॉप काम को को भी प्रभावित कर सकता है इसलिए बेहतर यही होगा कि आप बच्चों के लिए लैपटॉप लेते वक्त हार्ड ड्राइव स्पेस का भी ध्यान रखें।

इसके अलावा आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि नए लैपटॉप के साथ उसकी सुरक्षा भी जरूरी होती है। इसलिए लैपटॉप खरीदने के साथ-साथ एक बेहतर एंटीवायरस सॉल्यूशन जैसे नॉर्टन इंस्टॉल कर लें। इससे आपके बच्चों का लैपटॉप सुरक्षित रहेगा।

3)सही प्रोसेसर का करें चुनाव

इसके अलावा लैपटॉप के स्पेसिफिकेशन को भी चेक करके ही सेलेक्ट करें, जितने अच्छे स्पेसिफिकेशन होंगे उतना ही बेहतर लैपटॉप वर्क करेगा। साथ ही आपको छोटे लैपटॉप को ही खरीदना चाहिए क्योंकि वह आपके बच्चे आराम से कैरी कर पाएंगे और कोशिश करें कि आप बजट के अंदर लेटेस्ट टेक्नोलॉजी वाला लैपटॉप खरीदें। इसके लिए आप ऑनलाइन चल रही सेल या डिस्काउंट भी चेक कर सकती हैं।

बच्चों के लिए लैपटॉप लेते वक्त आपको इन सभी बातों का ध्यान रखना चाहिए। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

हमें मालूम है कि आपका काम बिना लैपटॉप या मोबाइल के पूरा हो ही नहीं सकता। हमें ये भी मालूम है कि ऑफिस का काम बिना लैपटॉप और मोबाइल के नहीं हो सकता लेकिन, आपको ये भी जानकारी रखना चाहिए कि इन दोनों में से आपको सबसे अधिक परेशानी किस चीज से हो सकती हैं।

कई बार लगता है कि लैपटॉप पर अधिक काम करने से आंखों में परेशानी हो रही है तो कई बार ये लगता है कि मोबाइल से परेशनी हो रही। कई बार लैपटॉप तो बंद कर देते हैं लेकिन, मोबाइल पर लगे रहते हैं। आज इस लेख में आपको ये बताने जा रहे है कि असल में आंखों में लैपटॉप से अधिक परेशानी होती है या फिर मोबाइल से। तो चलिए शुरू करते है

सबसे पहले लैपटॉप के बारे में

ये तो आप जानते ही है कि मोबाइल के मुकाबले लैपटॉप की स्क्रीन बड़ी होती है। जीतनी बड़ी स्क्रीन होती है आंखों पर कम असर पड़ता है। क्यूंकि, मोबाइल के अपेक्षा लैपटॉप थोड़ी दूरी पर रखा होता है। लैपटॉप स्क्रीन बड़ा होता है इलसिए आंखों पर कम जोर पड़ता है। मोबाइल के अपेक्षा अमूमन सभी घरों में लैपटॉप कम होता है, इसलिए लैपटॉप पर काम करने का मौका भी कम रहता है।

FAQ

लैपटॉप खरीदते समय हमें क्या पता होना चाहिए?

नया लैपटॉप खरीदते समय सही ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) चुनना पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम है क्योंकि यह उस वातावरण को निर्धारित करता है जिसमें आप काम करेंगे। इसलिए, सत्यापित करें कि प्री-लोडेड OS आपकी एंड-यूज़र ज़रूरतों को पूरा करता है।

लैपटॉप छात्रों के लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

लैपटॉप का उपयोग करने वाले छात्रों के लिए कई फायदे मौजूद हैं, जिनमें अधिक कुशल और विस्तृत नोट लेना, तेज लेखन और संपादन, और सुविधाजनक समूह कार्य और अध्ययन शामिल हैं। लैपटॉप छात्रों को ये लाभ प्रदान करते हैं, चाहे उनका ग्रेड या उम्र कुछ भी हो।

बेस्ट लैपटॉप कैसे चुने?

लैपटॉप खरीदने से पहले इसे चुनने के लिए कोई बड़ा स्टोर या स्पेशलाइज्ड कंप्यूटर स्टोर बेहतर विकल्प है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *