cristiano ronaldo biography in hindi

क्रिस्टियानो रोनाल्डो बायोग्राफी | Cristiano Ronaldo Biography In Hindi

फुटबॉल की दुनिया में आपने कभी न कभी क्रिस्टियानो रोनाल्डो का नाम जरूर सुना होगा। जिस खिलाड़ी के इंस्टाग्राम अकाउंट पर 507 मिलियन फॉलोअर्स हैं उसे कौन नहीं जानता भला।

क्रिस्टियानो रोनाल्डो एक प्रसिद्ध फुटबॉल खिलाड़ी हैं जो पुर्तगाल की राष्ट्रीय टीम के लिए खेलते हैं। भले ही रोनाल्डो को अपने जीवन के शुरुआती दिनों में परिवार की गरीबी के कारण आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ा था, लेकिन आज उनकी गिनती दुनिया के सबसे अमीर और महंगे खिलाड़ियों में होती है।

क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने कम उम्र से ही फुटबॉल खेलना शुरू कर दिया था। रोनाल्डो ने अपनी बेहतरीन खेल अंदाज से बहुत ही कम समय में लोगों के दिलों में अपनी जगह बना ली। उनकी बेहतरीन प्रतिभा को देखते हुए महज 18 साल की उम्र में रोनाल्डो को अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल मैच खेलने का मौका मिला।

आर्थिक तंगी के कारण उन्होंने अपने जीवन में काफी संघर्ष किया, लेकिन आज वह सफलता के उस मुकाम पर पहुंच गए हैं, जहां पहुंचने का सपना हर खिलाड़ी देखता है। तो आइए आज इस लेख (Biography of Cristiano Ronaldo in hindi) के माध्यम से क्रिस्टियानो रोनाल्डो के बारे में जानते हैं।

Also Read : Rishabh Pant Biography in Hindi

Also Read : Hardik Pandya Biography in Hindi

फुटबॉल की दुनिया का शहंशाह |Cristiano Ronaldo Biography in Hindi |

ronaldo
Cristiano Ronaldo Biography in Hindi

Cristiano Ronaldo का जन्म 5 फरवरी 1985 को पुर्तगाल में हुआ था और उनके पिता का नाम जोस डिनिस एवेरियो है, वे नगरपालिका में माली का काम करते थे। उनकी मां का नाम मारिया डोलोरेस डॉस सैंटोस एवेरियो है और वह घर-घर जाकर खाना बनाती थीं। रोनाल्डो के परिवार में उनके माता-पिता के अलावा एक भाई और उनकी दो बहनें हैं और वह अपने भाई-बहनों में सबसे छोटे हैं।  

रोनाल्डो के कुल चार बच्चे हैं जिनमें से उनके सबसे बड़े बेटे का नाम क्रिस्टियानो रोनाल्डो जूनियर है। उनके बेटे का जन्म 17 जून 2010 को हुआ था। हालांकि, क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने कभी इस बात का खुलासा नहीं किया कि उनके बच्चे की मां कौन है।

रोनाल्डो के अन्य बच्चे मेटो, ईवा मारिया और अलाना मार्टिनेज हैं। मेटो और ईवा मारिया रोनाल्डो के जुड़वां बच्चे हैं, जिनका जन्म 8 जून 2017 को सरोगेसी के माध्यम से हुआ था। इसलिए उनकी बेटी अलाना मार्टिनेज का जन्म 12 नवंबर 2017 को हुआ था। तो चलिए अब जानते हैं रोनाल्डो की शिक्षा के बारे में।

क्रिस्टियानो रोनाल्डो की शिक्षा (Education of Cristiano Ronaldo)

आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया के सबसे मशहूर खिलाड़ी और फुटबॉल के बादशाह क्रिस्टियानो रोनाल्डो के पास न तो कोई शैक्षणिक योग्यता है और न ही कोई डिग्री।

रोनाल्डो अपने स्कूल के दिनों से ही अच्छी फुटबॉल खेलते थे। इस वजह से वह स्कूल के छात्रों के बीच काफी लोकप्रिय हो गए थे। लेकिन अपने शिक्षक की नजर में। वह सिर्फ एक बिगड़ैल बच्चे था। उनकी शरारतें बहुत ज्यादा थीं। वो भी एक बार टीचर के ऊपर कुर्सी फेंकने की वजह से.उन्हें स्कूल से भी निकाल दिया गया था।

उनका पसंदीदा खेल फुटबॉल था। इसलिए वह अपनी उम्र के अन्य बच्चों की तुलना में बहुत अच्छे था। तब उनकी मां मारिया ने फैसला किया। रोनाल्डो को अब फुटबॉल पर फोकस करने देना चाहिए। यही वजह थी कि रोनाल्डो ने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी और फुटबॉल को अपना करियर बना लिया।

क्रिस्टियानो रोनाल्डो फुटबॉल कैरियर (Football Career of Cristiano Ronaldo)

रोनाल्डो ने बहुत कम उम्र से ही फुटबॉल खेलना शुरू कर दिया था। शुरूआती वर्षों में वे लोकल टीम के लिए ही खेलते थे। 12 साल की उम्र तक, वह अपनी लोकल टीम के लिए एक प्रसिद्ध फुटबॉलर बन गए थे। उनकी गिनती मदिरा के टॉप फुटबॉलर्स में होती थी। तब 16 साल की उम्र में लिवरपूल के मैनेजर काफी प्रभावित हुए थे लेकिन उनकी उम्र कम थी इसलिए वह उन्हें अपनी टीम में शामिल नहीं करना चाहते थे।

फिर 2003 में स्पोर्टिंग क्लब और मैनचेस्टर यूनाइटेड के बीच एक मैच हुआ, जिसमें रोनाल्डो स्पोर्टिंग के लिए खेल रहे थे। स्पोर्टिंग ने मैच में मैनचेस्टर यूनाइटेड को 3-0 से हराया, जिसमें रोनाल्डो ने दो गोल किए। उस मैच में रोनाल्डो के प्रदर्शन ने मैनचेस्टर यूनाइटेड के मैनेजर का ध्यान खींचा और उन्होंने रोनाल्डो को फिर से अपनी टीम में शामिल कर लिया। इसके साथ ही रोनाल्डो मैनचेस्टर यूनाइटेड के लिए खेलने वाले पहले पुर्तगाली खिलाड़ी बन गए थे।

उन्हें मैनचेस्टर यूनाइटेड में सात नंबर की जर्सी दी गई थी। यह वही जर्सी नंबर था जिसे डेविड बेकहम पहनते थे, लेकिन रोनाल्डो ने कहा कि वह इस नंबर से जुड़ी उम्मीदों के बोझ को नहीं संभाल पाएंगे, इसलिए उन्हें 28 नंबर दिया जाना चाहिए।

रोचक तथ्य

कहा जाता है कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो अकेले ही एक अनाथालय चलाते हैं जिसमें वह 600 से अधिक बच्चों की देखभाल करते हैं। नवंबर 2012 में रोनाल्डो ने अपने गोल्डन बूट की नीलामी की और इस नीलामी से 13 करोड़ रुपए की कमाई को रोनाल्डो ने ग़िज़ा में स्कूल बनाने के लिए दान दिया था।

यह शख्स दुनिया का सबसे महंगा खिलाड़ी होने के साथ-साथ दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से भी एक है। आज क्रिस्टियानो रोनाल्डो की सफलता उस मुकाम पर पहुंच चुकी है जहां पहुंचने का सपना हर खिलाड़ी देखता है।

किसी ने सच ही कहा है कि जब आपका सिग्नेचर ऑटोग्राफ में बदल जाएगा, तो उस दिन आप समझ जाएंगे कि आपने सफलता के मुकाम को छू लिया है, आप जिस भी क्षेत्र में हैं, आप भी मेहनत और लगन से सफलता के शिखर पर पहुंच सकते हैं। रोनाल्डो के जीवन से हम यही सीखते हैं।

Also Read : Smart City Mission in Hindi

Also Read : Jama Masjid in Hindi

क्रिस्टियानो रोनाल्डो से संबंधित कुछ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

प्रश्न: क्रिस्टियानो रोनाल्डो की उम्र कितनी है?

उत्तर : 38 वर्ष (5 फरवरी 1985)

प्रश्न: क्रिस्टियानो रोनाल्डो के पास कितनी संपत्ति है?

उत्तर: 3610 करोड़ रुपये

प्रश्न: क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पत्नी कौन है?

उत्तर: रोनाल्डो की शादी नहीं हुई है लेकिन उनकी एक गर्लफ्रेंड है, उसका नाम जॉर्जीना रोड्रिग्ज है।

प्रश्न- क्रिस्टियानो रोनाल्डो कहाँ रहते हैं?

उत्तर: क्रिस्टियानो रोनाल्डो फिलहाल स्पेन में रहते हैं।

प्रश्न- क्रिस्टियानो रोनाल्डो को क्या पसंद है?

उत्तर: क्रिस्टियानो रोनाल्डो को संगीत सुनना और वर्कआउट करना बहुत पसंद है।

निष्कर्ष

तो दोस्तों इस लेख में हमने क्रिस्टियानो रोनाल्डो का जीवन परिचय (Cristiano Ronaldo Biography In Hindi) के माध्यम से उनके जीवन से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त की, इस लेख के बारे में आपकी क्या राय है हमें कमेंट के माध्यम से बताना ना भूलें और साथ ही जानकारी को शेयर भी कर दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *