Essay on Rainy Season in Hindi

Essay on Rainy Season in Hindi

वर्षा ऋतु हमारे देश की चार प्रमुख ऋतुओं में से एक है। यह ऐसा मौसम है जो लगभग सभी का पसंदीदा होता है क्योंकि यह झुलसा देने वाली गर्मी के बाद राहत का एहसास लाता है। जुलाई से यानी सावन भादों के महीने में बारिश का मौसम शुरू हो जाता है। यह मौसम भारतीय किसानों के लिए बहुत ही लाभदायक और महत्वपूर्ण है।

वर्षा ऋतु का आगमन

rain
Essay on Rainy Season in Hindi

वर्षा ऋतु का आगमन श्रावण माह से प्रारम्भ होकर भादो माह तक रहता है। अंग्रेजी भाषा में इसे जुलाई से सितंबर तक का महीना कहते हैं। बरसात के मौसम में आपको चारों तरफ हरियाली ही हरियाली नजर आएगी। वर्षा ऋतु को मानसून भी कहा जाता है। इस मौसम में सबसे ज्यादा बारिश होती है। आपको हर जगह पानी ही पानी नजर आएगा। पेड़ों पर हरे-भरे पत्ते, आम के फलों से लदे पेड़, उस पर बैठे पक्षियों की चहचहाहट, यह मनमोहक दृश्य वर्षा ऋतु के आगमन का संदेश देता है।

Read Also: Freedom Fighters in India

Also Read :- UPSC Full Form in Hindi

वर्षा ऋतु की विशेषताएं

वर्षा ऋतु खेती के लिए अनुकूल होता है क्योंकि गर्मियों में जल स्तर घटने और जलाशय के सूख जाने के बाद इस मौसम में सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था की जा सकती है। बरसात का मौसम न सिर्फ इंसानों के लिए फायदेमंद होता है, बल्कि यह गर्मी से बेहाल सूखे पौधों और पशु-पक्षियों को भी नया जीवन देता है।

इस मौसम में जंगलों का नजारा बहुत ही अनोखा होता है, आपने मोर के बारे में तो सुना ही होगा, जब काले बादल छाते हैं, तो यह अपने खूबसूरत पंखों को फैलाकर नृत्य करते हैं, गर्मी में बेहाल और प्यासे जानवरों में पहली बारिश से ही राहत महसूस करते है।

बरसात के मौसम से नुकसान या समस्या

बाढ़ की संभावना:-

लगातार हो रही भारी बारिश से लोगों को बाढ़, सुनामी जैसी स्थिति का सामना करना पड़ा है।

बारिश से फसल को नुकसान:-

भारी बारिश के कारण किसानों की फसलों को काफी नुकसान होता है, जिससे उनकी साल भर की मेहनत खराब हो जाती है।

फसल खराब होने के कारण अनाज उत्पादन में गिरावट

भारी बारिश के कारण किसानों का अनाज खराब हो जाता है तो उनके द्वारा खेतों में लगाई गई लागत की भी वसूली नहीं हो पाती है जिससे किसान वर्ग के लोगों को काफी निराशा का सामना करना पड़ता है। और फसल बाजार में कम दाम में बिकती है।

संक्रामक/वायरस फैलने का डर

बारिश के मौसम में जगह-जगह पानी भर जाता है, जिससे बच्चों और बड़ों में वायरस फैलने का डर रहता है, जैसे सर्दी, खांसी, बुखार, एलर्जी आदि।

वर्षा ऋतु के मौसम में त्योहार

भारत एक ऐसा देश है जहां हर दिन कोई न कोई त्योहार मनाया जाता है। दुनिया के ज्यादातर त्यौहार भारत में ही मनाए जाते हैं। कई त्यौहार ऋतुओं के आधार पर भी मनाए जाते हैं।

जन्माष्टमी, तीज, रक्षा बंधन, ईद-उल-जुहा, मुहर्रम, ओणम, गणेश पूजा, प्रकाश वर्षा आदि वर्षा ऋतु में मनाए जाने वाले प्रसिद्ध त्यौहार हैं। इसीलिए वर्षा ऋतु को त्योहारों का मौसम भी कहा जाता है।

वर्षा ऋतु का दृश्य

जब बरसात का मौसम शुरू होता है, तो पूरा नीला आकाश चमकीले और सफेद बादलों से ढक जाता है। वर्षा के दिनों में आकाश में इन्द्रधनुष भी दिखाई देने लगता है। बारिश के बाद पूरे वातावरण में ठंडी हवा चलने लगती है और चारों ओर हरियाली फैल जाती है। सारे खेत फसलों से लहलहाने लगते हैं।

हर तरफ पक्षियों की चहचहाहट सुनाई देती है और मोर इस मौसम में पंख फैलाकर नाचने लगते हैं। वर्षा ऋतु का आनंद सभी पक्षियों के साथ-साथ सभी जानवरों में भी देखा जाता है।

5 Best Line of Essay on Rainy Season in Hindi

  • बरसात के मौसम में हमें चारों ओर हरियाली दिखाई देती है, जहां हम विभिन्न प्रकार की नई फसलें उगा सकते हैं, मुख्य रूप से सूरजमुखी, अरहर, मक्का आदि।
  • बरसात का मौसम इसलिए भी प्रिय होता है क्योंकि इस मौसम में हमें कई पक्षियों की चहचहाहट सुनाई देती है, जो कहीं न कहीं पर्यावरण के लिए अच्छी खबर हो सकती है।
  • भारत में सबसे कम बारिश राजस्थान में दर्ज की गई है, जहां अक्सर लोगों को पता ही नहीं चलता कि बारिश कब हो जाती है, क्योंकि वहां औसत से कम बारिश होती है।
  • बरसात के मौसम में आमतौर पर सड़कें खराब होती हैं, जिन पर चलना कई बार मुश्किल हो जाता है, ऐसे में रास्ते में जलभराव के कारण दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है.
  • आप चाहें तो बरसात के मौसम में कई पौधे लगाकर पर्यावरण को सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी निभा सकते हैं।

Also Read : Google Drive Kya hai

Also Read: 7 Wonders of the World Names in Hindi

वर्षा ऋतु से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q1. बरसात के मौसम में क्या होता है?

बरसात का मौसम हमें चिलचिलाती और कड़क धूप से राहत देता है। पृथ्वी पर पानी के मुख्य स्रोत जैसे नदी, तालाब, झरने और कुएँ वर्षा ऋतु के कारण पानी से भर जाते हैं, जिससे ठंडी हवाएँ चलने लगती हैं। वर्षा ऋतु के सुहावने मौसम के आने से मनुष्य, पशु-पक्षी, पेड़-पौधे सभी को गर्मी से राहत मिलती है।

Q2. बरसात का मौसम अच्छा क्यों लगता है?

बरसात का मौसम बहुत ही खूबसूरत मौसम होता है, इस मौसम में सभी का मन खुश होता है क्योंकि चारों ओर हरियाली, ठंडी हवा और सुख-शांति फैल जाती है। मानसून के दिनों में आसमान में काले और सफेद बादल पानी इकट्ठा करने के लिए दौड़ते हुए दिखाई देते हैं, काले बादलों में बिजली देखना बहुत सुखद होता है।

Q3. बरसात के मौसम में हमारे जीवन में कौन-कौन सी चुनौतियाँ आती हैं?

कुछ स्थानों पर अत्यधिक वर्षा के कारण बाढ़ आ जाती है, जिससे जान-माल का बहुत नुकसान होता है। ये चीजें हमारे जीवन को बुरी तरह प्रभावित करती हैं। तब भी, हम सभी बारिश के मौसम का खुले दिल से स्वागत करते हैं। यह हमें नया जीवन और ताजगी देता है।

Q4. बरसात का मौसम कब आता है?

यह ऋतु ग्रीष्म ऋतु के बाद आती है। भीषण गर्मी, गर्म हवाओं और लू से परेशान हो जाने के बाद वर्षा ऋतु आती है। इस ऋतु के आते ही वातावरण में नमी आ जाती है और हम सभी को गर्मी से राहत मिलती है। इस ऋतु का आगमन जून और जुलाई के महीनों में होता है।

निष्कर्ष

अंत में, मुझे आशा है कि आपको Essay on Rainy Season in Hindi यह लेख पसंद आया होगा और आपको इस लेख में हमारे द्वारा प्रदान की गई अमूल्य जानकारी लाभदायक लगी होगी।

अगर आपको इस लेख के माध्यम से किसी भी प्रकार की जानकारी अच्छी लगी हो तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिवार के साथ फेसबुक पर जरूर शेयर करें और मुझे भी कमेंट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *