Hardik Pandya

Hardik Pandya Biography

Hardik Pandya – आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से भारतीय टीम के अहम खिलाड़ी जिसने अपने बल्लेबाजी और गेंदबाजी से सबका दिल जीत लिया है उसके बारे में जानेंगे। उस खिलाड़ी का नाम Hardik Pandya Biography है। हार्दिक पंड्या बहुत ही कम समय में क्रिकेट में अपना बहुत ही अच्छा नाम बना लिए हैं। हार्दिक पंड्या बैटिंग करने के साथ-साथ बहुत अच्छी गेंदबाजी भी करते हैं। जिसकी वजह से उनकी भारतीय टीम में एक खास जगह बन गई है।

Hardik Pandya तेजी से रन बनाने के लिए जाने जाते हैं। यानी कि हार्दिक पंड्या एक ऑलराउंडर हैं। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से हार्दिक पंड्या के जन्म से लेकर अब तक की कहानी जानने वाले हैं। हार्दिक पंड्या की प्रारंभिक करियर से लेकर के अभी वह जिस पायदान पर है वहां तक सारी जानकारी इकट्ठा करेंगे। 

Hardik Pandya
Hardik Pandya

तो अगर आप Hardik Pandya Biography के बारे में जानकारी इकट्ठा करना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें। क्योंकि हम आपको हार्दिक पंड्या के करियर के साथ-साथ उनके परिवार के बारे में भी बताएंगे। 

Hardik Pandya Biography 

नामहार्दिक पंड्या
पिता का नामहिमांशु पंड्या
माता का नामनलिनी पंड्या
जन्म11 अक्टूबर 1993
भाई का नामकुणाल पंड्या
Hardik Pandya

हार्दिक पंड्या का जन्म 

हार्दिक पंड्या एक ऑलराउंडर है। जो बैटिंग के साथ-साथ बोलिंग भी करते हैं और वह इस वक्त भारतीय टीम की शान है। हार्दिक पंड्या का जन्म 11 अक्टूबर 1993 को गुजरात के एक शहर सूरत के पास एक छोटे से गांव में हुआ था। हार्दिक पंड्या की आयु 2021 तक 27 साल की है। हार्दिक पंड्या के पिता का नाम हिमांशु पंड्या है जो अपने गांव में ही एक छोटा सा व्यापार करते थे।

लेकिन कुछ दिनों के बाद उन्होंने अपना व्यापार बंद कर दिया और वह आकर बड़ोदरा में शिफ्ट हो गए। हार्दिक पंड्या की माता का नाम नलिनी पंड्या है। जो कि एक गृहणी है। हार्दिक पंड्या के परिवार में उनके पिता हिमांशु पंड्या और उनकी माता नलिनी पंड्या के अलावा इनके एक बड़े भाई भी रहते हैं। 

हार्दिक पंड्या के बड़े भाई का नाम कुणाल पंड्या है। कुणाल पांड्या भी एक ऑलराउंडर है और वह भी क्रिकेट में अपना अच्छा खासा नाम कमा चुके हैं। हालांकि अभी कुणाल पांड्या की भारतीय टीम में जगह पक्की नहीं हो पाई है। लेकिन फिर भी कुणाल पांड्या अच्छे क्रिकेटर हैं और वह लगातार अच्छा कर रहे हैं। हमें कुणाल पांड्या आईपीएल में खेलते हुए नजर आते हैं और वह कई मैच अपने बल पर जीताते हुए भी नजर आते हैं। 

Must Read – Bollywood Star Ranbir Kapoor Biography in Hindi

हार्दिक पंड्या की एजुकेशन 

हार्दिक पंड्या शुरू से ही क्रिकेट खेलना पसंद करते थे और उनका पढ़ाई में मन बहुत कम लगता था। लेकिन हार्दिक पंड्या के पिता चाहते थे कि वह पढ़ लिखकर एक बड़ा आदमी बने। इसलिए हार्दिक पंड्या के पिता अपना गांव का बिजनेस बंद करके बड़ोदरा अपनी पूरी फैमिली को लेकर आ गए। ताकि वह अपने बच्चों को यानी कि हार्दिक पंड्या और कुणाल पंड्या को अच्छी शिक्षा दे सके।

हार्दिक पंड्या के पिता ने अपने दोनों बच्चों का एडमिशन एम के विद्यालय में करा दिया। हार्दिक पंड्या और कुणाल पांड्या पढ़ाई के साथ साथ ही वहां एक पास के किरण मोरे के क्रिकेट अकैडमी में एडमिशन ले लिया। वह दोनों पढ़ाई के साथ-साथ क्रिकेट भी खेलना शुरू कर दीए। 

उस समय हार्दिक पंड्या के पूरी परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत ही दयनीय थी इसलिए वह लोग गरोवा में एक किराए के मकान में रहते थे। हार्दिक पंड्या पढ़ने लिखने में काफी कमजोर थे और खेलने में काफी आगे थे। इसलिए उन्होंने अपनी पढ़ाई 9वी में ही छोड़ दी और खेल पर पूरा फोकस किया। क्योंकि हार्दिक पंड्या ने यह ठान लिया था कि उन्हें क्रिकेट में ही अपना कैरियर बनाना है। 

हार्दिक पंड्या का प्रारम्भिक करियर 

हार्दिक एक इंटरव्यू के दौरान यह जानकारी दीए है कि उनके शुरुआती करियर वाले दिनों में उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है और कठिनाइयों से गुजरना पड़ा है। उन्होंने कहा कि जब उन्होंने अपने क्रिकेट करियर का शुरूआत किया था तो उनका परिवार एक मध्यम वर्गीय परिवार था। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति खराब थी जिसके कारण उन्हें पैसों की बचत करनी रहती थी। उनके पास क्लब जाने के लिए खुद की गाड़ी नहीं थी। लेकिन वह जैसे तैसे करके अपने दोस्तों की गाड़ी से क्लब जाया करते थे। लेकिन हार्दिक पंड्या ने यह भी बात बताई है कि यह दिन गुजरते देर नहीं लगी। उन्होंने अपने एक क्लब मैच में बढ़िया पारी खेलकर अपने क्लब को जीत दिलाया।  

हार्दिक पंड्या काफी एटीट्यूड रखने वाले प्लेयर है। एक बार तो उन्हें उनके एटीट्यूट की वजह से स्टेट टीम से भी बाहर कर दिया गया था। लेकिन फिर भी हार्दिक पांड्या ने अपना एटीट्यूड कायम रखा और आज वह अपने एटीट्यूड के दम पर ही इतना सफलता प्राप्त किए हैं। 

हार्दिक पंड्या का Cricket करियर 

हार्दिक पंड्या ने अपने घरेलू क्रिकेट की शुरुआत बड़ोदरा टीम से की। हार्दिक पंड्या 2013 में अपने क्रिकेट करियर का शुरुआत लिए। उसके बाद उन्हें 2013-14 में मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी खेलने का मौका मिला। इसके बाद 2015 में इन्हें मुंबई इंडियंस ने खरीदा और वहां पर इनको सचिन तेंदुलकर के साथ रहने का मौका मिला। मुंबई इंडियन से खेलते हुए हार्दिक पंड्या ने काफी अच्छी अच्छी पारी खेली और सचिन तेंदुलकर ने भविष्यवाणी की कि बहुत जल्द हार्दिक पांड्या टीम इंडिया से खेलते नजर आएंगे। बिल्कुल वैसा ही हुआ और 2016 में होने वाले वर्ल्ड कप और एशिया कप के लिए उन्हें टीम इंडिया में चयन कर लिया गया। 

हार्दिक पंड्या का क्रिकेट करियर 

घरेलू मैचों और आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने की वजह से इन्हें 2016 में टीम इंडिया में चयन किया गया। इन्हें 2016 के बाद से ही लगातार टीम इंडिया से क्रिकेट खेलने का मौका मिलता रहा और वह इस मौके का फायदा उठाते रहे और लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे। इनके अच्छा प्रदर्शन के कारण टीम इंडिया में इन्हे एक खास जगह दे दी गई। आज हार्दिक पंड्या टीम इंडिया के एक भरोसेमंद खिलाड़ी है। हार्दिक पांड्या ने टीम इंडिया को कई मैचों में अकेले ही जीत दिला दिया है। 

निष्कर्ष 

आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Hardik Pandya Biography के बारे में जानकारी प्राप्त कराई। अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो आप इसे अपने मित्रों के पास शेयर कर सकते हैं। अगर आप चाहें तो इसे सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *