MPIN full form

MPIN full form

MPIN. hindi jpg
MPIN full form

आज जानेंगे MPIN Kya Hota Hai, MPIN full form, MPIN कैसे प्राप्त करें इस आर्टिकल में MPIN के बारे में विस्तार से बताया गया है। अगर आप Online mobile banking का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको MPIN के बारे में जानना बहुत ही जरूरी है, आज के समय में डिजिटलीकरण बहुत बढ़ गया है और सभी काम डिजिटल तरीकों से ही हो रहा है और डिजिटली ही हम पैसों का लेन देन भी बहुत आसानी से करते हैं।

इसके लिए हमें अपने बैंक अकाउंट से मोबाइल नंबर को connect करना होता है और फिर मोबाइल बैंकिंग से लेनदेन के लिए MPIN का प्रयोग होता हैं। दुनिया के साथ भारत में भी बहुत चीजे डिजिटल होती जा रही है और इस डिजिटल दुनिया से लेन-देन करने का तरीका भी बदल गया है।

पहले लोग किसी चीज का लेन-देन करने के लिए विशेष धातु का उपयोग करते थे फिर सिक्के और कागज के नोट का इस्तेमाल किये जाने लगा जो आज भी जारी है लेकिन भविष्य में आपको शायद ही कहीं सिक्के या नोट देखने को मिलेंगे क्योंकि लेन-देन करने के लिए अब लोग डिजिटल तरीकों का इस्तेमाल करने लगे हैं।

तो चलिए अब जानते हैं MPIN Kya Hota Hai और एमपिन का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है उम्मीद करते हैं आपको हमारा आर्टिकल पसंद आएगा।

Also Read – SBI ka Full Form In Hindi | भारतीय स्टेट बैंक के बारे में संपूर्ण जानकारी | SBI History In Hindi

MPIN क्या है?

MPIN मोबाइल बैंकिंग में उपयोग किया जाने वाला एक सुरक्षा कोड होता है जिसका उपयोग मोबाइल से ऑनलाइन लेन–देन के समय किया जाता है. सामान्य रूप से MPIN, ATM पिन की तरह 4 अंकों का एक कोड होता है लेकिन कई बैंकों में 6 अंकों का भी MPIN होता है।

आप MPIN को ATM पिन की तरह ही समझ सकते हैं, जैसे आपको ATM से पैसे निकालने के लिए अपने ATM पिन की आवश्यकता होती है इसी तरह मोबाइल से पैसे ट्रांसफर करने के लिए MPIN की जरूरत होती है। अगर आप मोबाइल से पैसों की लेन–देन करते हैं तो आपको अपना MPIN कभी भी किसी व्यक्ति को नहीं बताना चाहिए, इसे हमेशा रहस्यमय ही रखें।

एमपिन का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है?

MPIN का उपयोग मोबाइल से लेन–देन के लिए किया जा सकता है, यह मोबाइल बैंकिंग, USSD बैंकिंग और UPI भुगतानों को सुरक्षित बनाता है। जिस प्रकार ATM पिन के बिना ATM से पैसे निकलना संभव नहीं है, उसी प्रकार बिना MPIN के बिना मोबाइल बैंकिंग संभव नहीं है।

MPIN की Full Form क्या है ?

MPIN
MPIN full form

MPIN full form :- MPIN की फुल फॉर्म Mobile Banking Personal Identification Number है।

MPIN Code कैसे प्राप्त करें?

जैसा कि आपको बताया गया है कि खाताधारक को अपने वित्तीय लेन-देन के लिए MPIN Code आवश्यक रूप से रखना चाहिए, 

MPIN कोड प्राप्त करने की प्रक्रिया नीचे बताई जा रही है:

  • कोई भी खाताधारक दो तरह से MPIN Code को बना सकता है।
  • सबसे पहले बैंकों के द्वारा Mobile Banking की सुविधा से कोई भी खाताधारक MPIN Code को प्राप्त करने के लिए Registration करा सकता है।
  • अगर हम दूसरे तरीके की बात करें तो MPIN Code को हासिल करने के लिए वर्तमान में बहुत से ऐसे मोबाइल एप्लीकेशन है जो पेमेंट मेथड के लिए जाने जाते हैं जैसे BHIM APP, USSD तथा UPI APP हैं उनके द्वारा भी रजिस्ट्रेशन आप स्वयं कर सकते हैं।
  • ऊपर बताए गए दोनों तरीकों के द्वारा एमपिन कोड का रजिस्ट्रेशन करके कोई भी खाताधारक अपने मोबाइल बैंकिंग के द्वारा ऑनलाइन पैसों का लेन-देन कर सकता है।

MPIN कब मिलता है

आप लोग सोच रहे होंगे कि जब यह हमारे स्मार्टफोन को ऑनलाइन बैंकिंग की सुरक्षा के लिए बनाया गया है तो हमारे स्मार्टफोन में भी MPIN होगा ? तो मैं आपको बता दूं, यह MPIN आपको इस तरह नहीं मिलेगा यह MPIN आपको तब मिलेगा जब आप किसी ऑनलाइन बैंकिंग या फिर ऑनलाइन पेमेंट ऐप पर अकाउंट बनाते हो, जैसे कि– Paytm, phone pay, google pay.

यह पिन 4 या फिर 6 अंक का हो सकता है। इस पिन को दर्ज करेंगे तभी आप UPI मोबाइल एप्लिकेशन का इस्तेमाल कर पाएंगे।

MPIN क्यों जरुरी होता है

बैंक से होने वाले सभी ट्रांजैक्शन में 2 स्तर की सुरक्षा का होना जरुरी है ताकि किसी भी व्यक्ति के साथ धोखा – धडी ना हो सके. जैसे आपको ATM से पैसों की लेनदेन करते समय ATM कार्ड और ATM पिन की आवश्यकता होती है, यहां सुरक्षा का पहला स्तर ATM कार्ड है और सुरक्षा का दूसरा स्तर ATM पिन है।

इसी तरह से मोबाइल से पैसों की लेनदेन करने में मोबाइल नंबर के साथ MPIN की आवश्यकता होती है. यहां सुरक्षा का पहला स्तर मोबाइल नंबर है और सुरक्षा का दूसरा स्तर MPIN है।अगर MPIN नहीं होगा तो कोई भी अनजान व्यक्ति आपके मोबाइल से पेमेंट कर सकता है. MPIN यह सुनिश्चित करता है कि लेनदेन सही व्यक्ति के द्वारा की जा रही है, इसलिए MPIN मोबाइल बैंकिंग में बहुत महत्वपूर्ण होता है।

MPIN के फायदे

मोबाइल बैंकिंग में MPIN के कई फायदे हैं जैसे –

  • MPIN मोबाइल बैंकिंग को सुरक्षित बनाता है।
  • MPIN 4 या 6 अंकों का कोड होता है जिसे आप आसानी से घर बैठे जनरेट कर सकते हैं, और जरुरत पड़ने पर आप इसे बदल भी सकते हैं।
  • MPIN याद रखना बहुत आसान है।
  • अगर आपका मोबाइल किसी गलत व्यक्ति के हाथ लग जाता है तो भी वह बिना MPIN के आपके मोबाइल से पैसों की लेन-देन नहीं कर सकता है।

क्या होगा अगर आप अपना MPIN भूल गए?

अगर आप अपना MPIN भूल गए हैं तो आपको परेशान होने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। आप कभी भी एक नया MPIN आसानी से जनरेट कर सकते हैं। आप इसे नेट बैंकिंग, मोबाइल ऐप या एटीएम के माध्यम से जनरेट कर सकते हैं।

बैंकों के सभी मोबाइल ऐप आपको MPIN बदलने या रीसेट करने का विकल्प देती हैं। MPIN रीसेट करने के लिए, आपको अपना डेबिट कार्ड विवरण दर्ज करना जरूरी होगा।

अगर आपका फ़ोन नंबर मोबाइल बैंकिंग सूची में नहीं है तो क्या करें?

जिन ग्राहकों के मोबाइल नंबर मोबाइल बैंकिंग के लिए पंजीकृत नहीं हैं, वे इस सेवा के लिए पात्र नहीं हैं। आप बैंक को कॉल करके या SMS मोबाइल नंबर पंजीकरण प्रक्रिया के माध्यम से अपना फोन नंबर पंजीकृत कर सकते हैं।

Also Read- Artificial Intelligence

निष्कर्ष

हमें उम्मीद है कि इस लेख से आपको MPIN क्या होता है? MPIN full form, MPIN के फायदे क्या होता है? इसके बारे में तो आप बहुत अच्छे से जान गए होंगे. इसके अलावा अगर आपका कोई और सवाल या सुझाव है तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *